ओडिशा निर्माण कुसुम योजना आईटीआई और डिप्लोमा शिक्षा हेतु वित्तीय सहायता

ओडिशा निर्माण कुसुम योजना, Odisha Nirman Kusum Yojana, Odisha Kisan Nirman Kusum Yojana, कुसुम निर्माण योजना शिक्षा को बढ़ावा देने हेतु – ओडिशा के सभी निम्न वर्ग सभी बच्चो की शिक्षा का ध्यान रखते हुए ओडिशा सरकार ने हाल ही में निर्माण कुसुम योजना शुरू की है। इस योजना के अंतर्गत, सभी बच्चो को शिक्षा प्राप्त करने हेतु वित्तीय सहायता प्रदान कराई जाएगी। इतना ही नहीं इस योजना के चलते तकनीकी शिक्षा को आगे बढ़ाने में सक्षम बनाने के लिए कार्यकर्ता के बच्चों को वित्तीय सहायता प्रदान करेगा। राज्य सरकार की इस योजना के अंतर्गत, 2018-19 शैक्षणिक सत्र के लिए 1878 लाभार्थियों के बैंक खातों में सीधे 1.09 करोड़ रुपये उनके बैंक अकाउंट में भेज दिए गए है 

ओडिशा निर्माण कुसुम योजना

  • इस योजना के अधिकारिक रूप से 6 अक्टूबर 2018 को राज्य स्तर के समारोह में जयदेव भवन में कर दी गई थी
  • इतना ही नहीं ओडिशा श्रम और कर्मचारी राज्य बीमा विभाग और कौशल विकास और तकनीकी शिक्षा विभाग ने इस समारोह का आयोजन किया है। 
  • निर्माण श्रमिकों के बच्चों को सरकार में शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता मिलेगी। 
  • मुख्यमंत्री ने प्रत्येक चरण में लड़कियों की औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई), पॉलिटेक्निक और डिप्लोमा शिक्षा के लिए 20% तक वित्तीय सहायता बढ़ाने की भी घोषणा की है।

ओडिशा फ़ूड सिक्योरिटी स्कीम पांच किलो चावल मात्र 1 रु. प्रतिकिलो BPL कार्ड पर

आईटीआई और डिप्लोमा में शिक्षा के लिए ओडिशा निर्माण कुसुम योजना

  • ओडिशा सरकार ने औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (आईटीआई) में शिक्षा प्राप्त करने और राज्य चलाने के तकनीकी संस्थानों में डिप्लोमा प्राप्त करने के लिए सभी छात्रों हेतु वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए निर्माण कुसुम योजना शुरू की है। 
  • मुख्यमंत्री ने ओडिशा बिल्डिंग और अन्य निर्माण श्रमिक कल्याण बोर्ड के तहत पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के 500 से अधिक बच्चों को वित्तीय सहायता दी है।

ओडिशा निर्माण कुसुम योजना से जुडी महत्वपूर्ण बाते

जैसाकि आपको पता ही है की हाल ही में ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के लिए पूर्व-रियायत राशि बढ़ाने की घोषणा की है। इसके अलावा, अगार किसी की प्राकृतिक रूप से मौत हो जाती है तो उसे 1 लाख रूपये की वित्तीय सहायता दी जाएगी इसके साथ ही यदि किसी व्यक्ति की मृत्यु अप्राकृतिक मौत रूप से होती है तो उसे वित्तीय सहायता हेतु 2 लाख रूपये दिए जाएंगे इस मुआवजा राशी को राज्य सरकार ने बढाकर 4 लाख रूपये कर दिया है इतना ही नहीं 4 लाख पंजीकृत श्रमिकों की लड़की बच्चों को शिक्षा और स्वास्थ्य के लिए वित्तीय सहायता 20% बढ़ा दी गई है।

अम्मा गाँव अम्मा विकास योजना ओडिशा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *